Friday, December 07, 2012

आस्था के दीप


आस्था के दीप - सन्तोष कुमार सिंह
साहित्य संगम प्रकाशन, बी-45, मोतीकुंज एक्स0, मथुरा (उ0प्र0)
संस्करण-प्रथम-2002 ई0, पेपर बैक, पृ0-32
मूल्य- 25 रुपए। 

 हाइकु कविता के संग्रह निरन्तर प्रकाशित हो रहे हैं। वर्ष 2002 के जाते-जाते सन्तोष कुमार सिंह का प्रथम हाइकु संग्रह ‘आस्था के दीप’ प्रकाशित हुआ है। संग्रह में कुल 300 हाइकु कविताएँ हैं।  हाइकुकार ने जहाँ चिंतन की अतल गहराई में डूबकर किसी बिंब को हाइकु का रूप दिया है, वे हाइकु अच्छे हाइकु के रूप में अपनी पहचान बनाएँगे। कुछ हाइकु दृष्टव्य हैं-

  काँस हैं फूले / वया ने डाल दिये / पेड़ों पे झूले। (पृ0- 14)

  गाँव का हुक्का / महफिल की शान / बढ़ाये मान।   (पृ0-20)

  पेंजनी बजीं / उमड़ पड़ा सिन्धु / ममता भरा।       (पृ0-22)

  झाँझी तू बोल / गुम हो गये कैसे / टेसू के बोल।   (पृ0-27)

  दुखी हो गात / अमावस सी लगे / चाँदनी रात।     (पृ0-29)

 32 पृष्ठ के पेपर बैक संस्करण का मूल्य मात्र 25 रुपए हैं। 


-(हाइकु दर्पण, अंक - 03 से साभार)

No comments: